Kuve Pe Lugaiya Dhore Kaam Ke Fakir Ka Song Lyrics. This is the latest ragni remix song written by Dada Lakhmi chand and sing by Masoom Sharma & Amanraj Gill.

Kuve Pe Lugaiya Dhore Kaam Ke Fakir Ka Song Lyrics

कुए पे लुगाईया धोरे काम के फकीर का

फिरे से बहकाया मोडे चौकस किसे बीर का

चौकस किसे बीर का

 

ही रे कुए पे लुगाईया धोरे

कुए पे लुगाईया धोरे काम के फकीर का

फिरे से बहकाया मोडे चौकस किसे बीर का

चौकस किसे बीर का

 

दिखे से तेरे नाकि दुनिया उजडगी

मिलके लुगाई कोई तेरे ते बिछड़गी

तेरे ते बिछड़गी

 

इश्क़ आली नाग डस दिल के में बढ़गी

कर लिए विचार बाबा जे नजरा में चढ़गी

जे नजरा में चढ़गी

 

बात के बिगड़गी बन के, बात के बिगड़गी बन के

खेल से तकदीर का

फिरे से बहकाया रे मोडे चौकस किसे बीर का

चौकस किसे बीर का

 

मेरी नजरा का त्योरर बाबा तेरे पर ते हटता कोन्या

तेरे रूप पे भगवा बाण्णा दूर दूर तक जचता कोन्या

पीणा का तू प्यासा कोन्या प्यासा कायहै और का

जिस पीणा ने पीणा चाहवे पीणा इतना सस्ता कोन्या

नजर तेरी ये आशिक बरगी चहरे ते तू भोला लागै

रंग ढंग तेरा साफ़ बतावे प्यार प्रेम का रोला लागे

 

बात बात में बात करे तू, बात तेरी ये खोट करे

बात तेरे ते क्यूकर कर लू, सीधी दिल पे चोट करे

सारी बेरा खटक मेने बाबा जोणसि में होरिया रे

कहया खातर तू बाबा बन रा किस ने घर घर टोह रा है

 

बात से हिसाबी बाबा उमर से कमावण की

बात से हिसाबी बाबा उमर से कमावण की

बार बार जिंदगानी बोडके ना आवन की

बोडके ना आवन की

आँख से कटीली तेरी मार के गिरावण की

देखे बिना सरता कोन्या टाल कर लखावन की

टाल कर लखावन की

गावन की खटक में लख्मी

गावन की खटक में लख्मीचंद झोड़ा होया शरीर का

फिरे से बहकाया रे मोडे चौकस किसे बीर का

चौकस किसे बीर का

 

Kuve Pe Lugaiya Dhore Kaam Ke Fakir Ka Song Lyrics Info:
Album: Kuve Pe Lugaiya Dhore Kaam Ke Fakir ka
Singers: Masoom Sharma , Amanraj Gill
Song Lyricists: Dada Lakhmi Chand
Music Composer:
Music Director:
Genres: Fun
Director:
Music Label:
Starring:
Release on: